Anaemia - Subhash Goyal

Anaemia

Anaemia / पाण्डु

Flatulence / आध्मान Ayurvedic Treatment

Definition

In this, colour of skin and mucous membrane becomes pallor in color due to diminished Red blood cells or less blood supply which also happens when there is destruction of red blood cells.

Causes:

  • Loss of blood( Red blood cell) due to any bleeding disorder
  •  Gastrointestinal diseases (Such as Ulcers, haemorrhoids, gastritis, cancer)
  • Non steroidal anti-inflammatory drugs (NSAIDS) such as aspirin, ibuprofen which may cause ulcer gastritis.
  • Menstrual bleeding
  • Vitamin deficiency (Pernicious anemia)
  • Sickle cell , megaloblastic anemia
  • Iron deficiency anemia ( commonly in children, vegetarians)
  • Breast feeding
  •  Metastatic malignant disease
  • Hepatic/Renal failure
  • In Crohn’s disease or surgical removal of intestine.
  • Thalassemia (when RBC cant get mature and grow properly)
  • Hypothyroidism
  • Excessive use of drugs, alcohol, caffeinated drinks
  • Enlarged spleen

Sypmtoms

  • Fatigue
  • Swelling over feet and hands
  • Pallor of skin
  • Tachycardia
  • Headache,fever
  •  Difficulty in breathing
  • Diarrhoea
  • Dark coloured urine
  • Pain in abdomen
  •  Hyperacidity
  • Flatulence

परिभाषा

जिस व्याधि में रोगी की त्वचा का रंग हरिद्रा के समान हो जाता है, उसे पाण्डु रोग कहते है। इसमें रक्त की कमी हो जाती है।

कारण / निदान:

  • यह रोग कई रोगों में लक्षण के रूप में भी दिखायी देता है। जैसे :
  •  रक्तार्श ( Bleeding piles)
  • शोथ (swelling)
  • गुल्म
  • कामला (Jaundice)
  • राज्याक्षमा (TB)
  • ग्रहणी दोष (Malabsorption syndrome)
  • औषध के अधिक सेवन से
  • शरीर में विटामिन B की कमी से
  • गर्भावस्था में  वृक्क / यकृत में किसी रोग के कारण  पाचन शक्ति की दुर्बलता
  •  शराब अधिक पीने से
  • दिन में अधिक सोने से
  • ख़ून की कमी
  • पेट में कीड़े होने से
  • अधिक मासिक धर्म होने से
  • अर्बुद के कारण

सामान्य लक्षण

  • थकावट
  • सारे शरीर में शोथ
  • आँख व त्वचा का रंग पीला होना
  • ज्वर, चक्कर आना
  • अधिक श्वास व तेज़ नाड़ी गति
  • अतिसार – दस्त
  • सिर दर्द, उदरशूल, शरीर में दर्द
  • रक्ताल्पता
  • भूख ना लगना
  • इसमें यकृत, प्लीहा, तिल्ली आदि के ख़राब होने से भी यह रोग हो सकता है।
  • पेट में अफ़ारा
  • जिगर का कड़ापन ( Hepatomegaly)

यदि आप इस रोग से छुटकारा पाना चाहते हैं तो कॉल करें विद्वान आयुर्वेदाचार्य से बात करें

+91-9465111393, 0172-4606414